pm kisan yojana
pm kisan yojana

PM Kisan Yojana: किसान सम्मान निधि की 11वीं किस्त का इंतजार? इन स्टेप्स से करें e-KYC

Start

पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra modi) 31 मई को शिमला से किसान सम्मान निधि की 11वीं किस्त जारी कर सकते हैं. इस मौके पर पीएम देश के अलग-अलग इलाकों के लाभार्थियों से भी बात करेंगे.

PM Kisan Yojana
PM Kisan Yojana

PM Kisan Samman Nidhi: देश में तेज रफ्तार से बढ़ रही महंगाई के कारण आम आदमी के जेब पर गहरा असर पड़ रहा है. ऐसे में उत्तर प्रदेश के किसानों लिए केंद्र की पीएम किसान सम्मान निधि योजना काफी मददगार साबित हो रही है. इस योजना के तहत सरकार 1 साल में 3 किस्त के जरिए किसानों को खाते में 6,000 रुपये की आर्थिक सहायता भेजती है. केंद्र सरकार 31 मई को 11वीं किस्त जारी कर सकती है.

31 मई को किसानों के खाते में आ सकती है 11वीं किस्त

दरअसल, पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra modi) 31 मई को शिमला से किसान सम्मान निधि की 11वीं किस्त जारी कर सकते हैं. इस मौके पर पीएम देश के अलग-अलग इलाकों के लाभार्थियों से भी बात करेंगे. बीजेपी की मोदी सरकार ने देश की सत्ता में रहते हुए सफलतापूर्वक आठ साल पूरे कर लिए हैं. इसी उपलक्ष्य में हिमाचल प्रदेश में कार्यक्रम होगा. जहां से पीएम किसानों के लिए 11वीं किस्त भी जारी करेंगे.

PM Kisan Yojana की लिस्ट में चेक करें अपना नाम

पीएम किसान योजना के लाभार्थी लिस्ट में अपना नाम चेक करने के लिए सबसे पहले पीएम किसान की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं. यहां Farmers Corner का ऑप्शन नजर आएगा. इसके बाद Beneficiary List के ऑप्शन पर क्लिक करें और फिर एक नया पेज खुल जाएगा. नए पेज पर अपना राज्य, जिला, उप-जिला, ब्लॉक और गांव की जानकारी दर्ज करें. इसके बाद Get Report पर क्लिक करें. यहां आपको सभी लाभार्थी किसानों की लिस्ट मिलेगी.

पीएम किसान योजना की शुरुआत कब हुई

पीएम मोदी ने इस योजना की औपचारिक रूप से शुरुआत 24 फरवरी, 2019 को यूपी के गोरखपुर में एक समारोह में की थी. देश भर के सभी खेतीहर किसानों के परिवारों को आय सहायता प्रदान करके किसानों की आय बढ़ाने के उद्देश्य से योजना शुरू की गई थी, ताकि उनकी कृषि और संबद्ध गतिविधियों के साथ-साथ घरेलू व्यय की आवश्यकताओं को पूरा किया जा सके.

पीएम किसान योजना के लिए पात्रता क्या है

दरअसल, पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत सरकार प्रत्येक वर्ष करोड़ों किसानों के खाते में 6 हजार रुपए की प्रोत्साहन राशि जमा करती है. इस तरह सरकार द्वारा सालभर में किसानों के खाते में कुल 6 हजार रुपए भेजे जाते है. दरअसल, सभी किसान जिनके पास 2 हेक्टेयर से कम खेती योग्य भूमि है वह योजना का लाभ उठा सकते हैं.

योजना का लाभ उठाने के लिए अनिवार्य है केवाईसी

पीएम किसान पोर्टल से मिली जानकारी के मुताबिक पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ उठाने के लिए केवाईसी कराना अनिवार्य है. योजना के तहत आने वाले जिन किसानों ने अभी तक अपना केवाईसी अपडेट नहीं कराया है, उन्हें तुरंत केवाईसी अपडेट कराना होगा वरना आपके खाते में 2000 रुपये की किस्त नहीं आएगी. यहां हम आपको पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत केवाईसी कराने का ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीका बताएंगे, जिससे किसान योजना का लाभ उठाने के लिए आसानी से अपना केवाईसी करा सकते हैं.

योजना से जुड़ी ज्यादा जानकारी के लिए इन नंबरों पर कर सकते हैं कॉल

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत लाभार्थियों को हर साल 6 हजार रुपये की मदद मिलती है. पीएम किसान पोर्टल पर आसानी से ओटीपी आधारित eKYC अपडेट किया जा सकता है. इसके लिए ऑफलाइन eKYC के लिए किसानों को नजदीकी CSC जाना होगा, जहां बायोमेट्रिक आधारित eKYC किया जाता है. पीएम किसान सम्मान निधि से जुड़ी ज्यादा जानकारी के लिए आप 155261 और 011-24300606 नंबर पर कॉल भी कर सकते हैं.

पीएम किसान के लिए eKYC अपडेट कराने का ऑनलाइन तरीका

  • सबसे पहले आपको पीएम किसान के आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा.
  • वेबसाइट पर आने के बाद पेज के दाईं तरफ दिख रहे eKYC पर क्लिक करें.
  • अब आपको अपना आधार नंबर और कैप्चा कोड डालकर सर्च पर क्लिक करना है.
  • अब अपना मोबाइल नंबर डालें, जो आधार कार्ड के साथ लिंक है.
  • अब Get OTP पर क्लिक करें और ओटीपी आने के बाद उसे भरकर सब्मिट कर दें.

पीएम किसान के लिए eKYC अपडेट कराने का ऑफलाइन प्रोसेस

  • पीएम किसान योजना के तहत ऑफलाइन eKYC अपडेट कराने के लिए आपको नजदीकी CSC जाना होगा.
  • सीएससी पर आपको पीएम किसान खाते में अपना आधार अपडेट करना होगा.
  • इसके बाद आपको बायोमेट्रिक के जरिए खाते में लॉग-इन करना है.
  • अब अपना आधार नंबर अपडेट करके फॉर्म सब्मिट करना है.
  • ये सभी प्रक्रिया पूरी करने के बाद आपके मोबाइल फोन पर एक कंफर्मेशन मैसेज आ जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest from Blog